Best Makar Sankranti Wishes, Sms, Messages, Shayari, Status


Happy Makar Sankranti

सूरज की राशि बदलेगी बहुतों की किस्मत बदलेगी,
यह साल का पहला पर्व होगा, जो बस खुशियों से भरा होगा!
हैप्पी संक्रांति

मीठी बोली, मीठी जुबान,
मकर संक्रांति पर यही है पैगाम!
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं..

Pal Pal Sunahre Phool Khile,
Kabhi Na Ho Kanto Ka Samna,
Jindagi Aapki Khushiyo Se Bhari Rahe,
Sankranti Par Hamari Yahi Shubhkamna..
Happy Makar Sankranti

तन में मस्ती, मन में उमंग, देकर सबको अपनापन,
गुड़ में जैसे मिठापन, होकर साथ हम उड़ाए पतंग,
भर दे आकाश में अपने रंग..
Happy Makar Sankranti

तन में मस्ती, मन में उमंग, देकर सबको अपनापन,
गुड़ में जैसे मिठापन, होकर साथ हम उड़ाए पतंग, भर दे आकाश में अपने रंग..
Happy Makar Sankranti

मीठे गुड़ में मिल गए तिल, उड़ी पतंग और खिल गए दिल,
हर पल सुख और हर दिन शांति, आप सबके लिए लाए मकर सक्रांति..
Happy Makar Sankranti

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी,
टूटे ना कभी डोर आपके विश्वास की,
छू लों आप जिंदगी के सारे कामयाबी,
जैसे पतंग छूती है ऊंचाइयां आसमान की..
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं!!

सभी दोस्तों को मकर सक्रांति पर्व की शुभकामनाये…
आपका दिन शुभ और मंगलमय हो ऐसी कमाना करता हूँ..

Ye saal ki “Makar Sankranti”
Aapke liye til-gur jaisi mithi
Aur ‘PATANG’ jaisi unchi udan laye..

Mandir ki ghanti, Arti ki thali,
Nadi ke kinare suraj ki lali,
Zindagi me aaye khushiyo ki bahar,
Apko mubarak ho sankrant ka tyohar.

Happy Makar Sankrant

Til hum hai, aur gul aap,
Mithai hum hai aur mithas aap,
Saal ke pahale tyohar se ho rahi aaj shuruwat.
Aap ko hamari taraf se Happy Sankrant.

बंदे हें हम गुजराती हम पर किसका ज़ोर
उतरायण में उड़े पतंग चारों ओंर
लंच में खायें ऊँधिया और जलेबी गोल-गोल
अपना मांजा 〰 खुद बनवाने
आज चले हम टेरेस की ओर.!!
Happy Uttarayan

Meethe gud mein mil gaye til
Udi patang aur khil gaye dil
Har din sukh aur harpal shanti
Mubarak ho apko Makar Sankranti

Kaat naa sake kabhi koi patang aap ki,
Toote naa kabhi dor aapke vishwas ki
Chu lo aap zindagi ki sari kamyabi,
Jaise patang chhuti h unchaiya aasman ki.

Wish You Happy Makar Sankranti

Tan mein masti Mann mein umang.
Dekar sabko apnapan Gud mein jaise meethapan.
Hokar saath hum udayen patang Or bhar le aakash me apne rang.
Happy Makar Sankrant

Tyohar nahi hota apna paraya,
Tyohar hai wahi jise sabne manaya,
To mila k gud me til,
Patang sang ud jane do dil.

Happy Makar Sankranti

Bin sawan barsat nahi hoti,
Suraj doobe bina raat nahi hoti,
Apni to aadat hai aisi…,
Aapko wish kiye bin kisi Tyohar ki shuruaat nahi hoti…
HAPPY SANKRANT!

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *